Image

कारोबारियों को राहत, आधार से हो सकेगा GST के लिए रजिस्ट्रेशन

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने नई सरकार बनने के बाद अपनी पहली जीएसटी काउंसिल की बैठक की. इस बैठक के जरिए कारोबारियों को थोड़ी राहत देने की कोशिश की गई है.

कारोबारियों को अब जीएसटी रजिस्ट्रेशन कराने के लिए कागजी कार्यवाही से राहत देते हुए राजस्व सचिव अजय भूषण पांडे ने बताया, ‘मुख्य बदलावों में से एक हमने जीएसटी पंजीकरण को आसान बनाया है. पहले की व्यवस्था में लोगों को विभिन्न दस्तावेज देने होते थे. अब हमने आधार कार्ड का इस्तेमाल करने का फैसला किया है. आधार का इस्तेमाल करने से कारोबार को कई फायदे होंगे.’

अजय भूषण ने बताया कि कारोबारी आवेदन ऑनलाइन कर सकते है. इसके लिए वे अपने आधार नंबर का इस्तेमाल करके ओटीपी के माध्यम से जीएसटीएन पोर्टल पर खुद को पंजीकृत कर सकते हैं और जीएसटीएन रजिस्ट्रेशन नंबर हासिल कर सकते हैं.

इससे पहले वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने राज्यों के वित्त मंत्रियों के साथ बैठक की. बजट पूर्व बैठक में उन्‍होंने कहा कि केंद्र आर्थिक वृद्धि की दिशा तय करता है, लेकिन जमीन पर इसका प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित करना राज्यों का काम है. निर्मला सीतारमण ने आगे कहा कि जब तक राज्य और केंद्र मिलकर काम नहीं करेंगे, लक्ष्यों को हासिल नहीं किया जा सकता.