Image

जानिए एकता कपूर के पांच अंगूठियों का राज और क्यों नहीं की शादी

आज एकता कपूर 44 साल की हो गई हैं. एकता ने सिर्फ 19 साल की उम्र में काम करना शुरू कर दिया था और पिछले 25 साल से इंटरटेनमेंट इंडस्ट्री को लगातार एक चीज दे रही हैं, इंटरटेनमेंट, इंटरटेनमेंट और इंटरटेनमेंट. आपको इसमें कोई शक लगे तो उनके टीवी शो की फैन किसी भी महिला से बात कर लीजिए. आपको पता चल जाएगा कि करोड़ों भारतीय महिलाओं की इंटरटेनमेंट लाइफ में एकता के सीरियल कितना तड़का मारते हैं. भारतीय महिलाओं ने टीवी के रिमोट पर कब्जा ही एकता के सीरियल देखने के लिए किया है. सीरियल ही क्यों एकता की फिल्मों और वेब सीरीज ने भी उनके फैंस को काफी इंटरटेन किया है. इसीलिए तो हम उन्हें मनोरंजन के तीनों लोकों की रानी कहते हैं. तो आइए उनके जन्मदिन के मौके पर उनकी जिंदगी से जुड़े राज जान लेते हैं.

क्यों नहीं कभी शादी करना चाहती

एक इंटरव्यू के दौरान एकता ने बताया था कि जब वह छोटी थीं तब वह जल्द से जल्द शादी कर लेना चाहती थीं. वह 22 साल तक विवाह बंधन में बंधने का सपना देख रही थीं. पर जब वह 17 साल की थीं तो उनके पिता जितेंद्र ने कहा कि या तो काम कर लो या  फिर शादी. मैं चाहता हूं कि अभी तुम काम करो. बस फिर क्या एकता ने एक एड एजेंसी में काम करना शुरू कर दिया, लेकिन फिर इतने सालों में शादी का संयोग ही नहीं बना. अब तो एकता सरोगेसी से एक बेटे की मां भी बन चुकी हैं.

बेटे का नाम रवि क्यों रखा

इसी साल एकता मां बनी हैं. मुंबई में 11 फरवरी को उनके बेटे का नामकरण संस्कार हुआ था, जिसमें ढेरों सितारों ने सिरकत की थी. इसमें एकता के पिता जितेंद्र के नाम पर उनके बेटे का नाम रवि रखा गया. तब से एकता लगातार इंस्टाग्राम पर अपने बेटे की तस्वीर शेयर करती रहती हैं.

पांचों अंगूठियों का राज

कलावा, धागा और पांच अंगूठियां. एकता कपूर की पहचान का यह एक हिस्सा है. पर वह खुद को अंधविश्वासी नहीं मानती हैं. एकता का कहना है, मुझे नहीं लगता कि मैं अंधविश्वासी हूं. मैं अपने विश्वास को मजबूत करती हूं. ये आप पर निर्भर करता है कि आप मेरे विश्वास को कैसे देखते हैं. अगर आप विश्वास नहीं करते तो ये आपका अंधविश्वास है. एकता भगवान बालाजी की काफी आराधना करती हैं.

सारी आलोचना के बाद भी कटेंट की क्वीन

एकता के आलोचक अक्सर उन पर वेब सीरीज में सेक्स परोसने और फिल्मों में अश्लील कॉमेडी को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हैं. इसके अलावा उनके सीरियल के किरदारों की प्लास्टिक सर्जरी, मरने के बाद भी किरदारों के सीरियल में वापसी, एक ही डायलॉग और म्यूजिक के तीन बार तीन बार रिपीट होने जैसी चीजों की भी हंसी उड़ाई जाती है. इसके बावजूद कटेंट की क्वीन होने का टाइटल उनसे कोई नहीं छीन सका क्योंकि वह 100 से ज्यादा धारावाहिक बना चुकी हैं. सुशांत सिंह राजपूत से लेकर विद्या बालन जैसे सितारे उनके धारावाहिकों से ही चमके हैं. एकता कपूर एकमात्र ऐसी महिला प्रोड्यूसर हैं जो टीवी, फिल्म और वेब सीरीज तीनों प्लेटफार्म पर काम करती हैं। और हिट भी हैं.