Image

बनेगा नया एबीएम कॉलेज गोलमुरी सर्कस मैदान के 2.25 एकड़ में

 1971 में स्थापित अब्दुल बारी मेमोरियल (एबीएम) कॉलेज के दिन बहुरने वाले हैं.इसके तहत टाटा स्टील ने गोलमुरी स्थित सर्कस मैदान की 2.25 एकड़ की जमीन को एबीएम कॉलेज को देने का फैसला लिया है. सिर्फ यही नहीं इस कैंपस में टाटा स्टील पूर्ण रूप से भवन निर्माण कर कॉलेज को सौंपेगी. नए कॉलेज कैंपस की लागत 10 करोड़ से अधिक है. नए कैंपस को वोकेशनल सेंटर का हब बनाने की योजना भी है.

टाटा स्टील द्वारा इस बाबत अप्रैल में ही प्रस्ताव अनुमोदित कर दिया था. कॉलेज प्रबंधन ने प्रस्ताव को कुलाधिपति सह राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू के पास भेज दिया है. प्रस्ताव को हरी झंडी मिलने के बाद योजना पर अमल होना शुरू हो जाएगा.  नए कैंपस में कई तरह के वोकेशनल कोर्स प्रारंभ होंगे तथा साइंस की पढ़ाई भी प्रारंभ होगी. इस कॉलेज में अब तक आट्र्स एवं कॉमर्स की पढ़ाई होती है.

योजना को मूर्त रूप देने में कॉलेज की प्राचार्य डॉ. मुदिता चंद्रा ने महती भूमिका निभाई है.  कॉलेज को पूर्ण कॉलेज का दर्जा दिलाने तथा यहां की व्यवस्था को बदलने का प्रयास लगातार कर रही थी. अब यह सफलीभूत होता भी दिख रहा है. मालूम हो कि इस कॉलेज का पहली बार नैक टीम मूल्यांकन 19 व 20 जून को करेगी.

मुख्यमंत्री भी प्रयासरत

गोलमुरी स्थित एबीएम कॉलेज जमशेदपुर पूर्वी विधानसभा क्षेत्र का एकमात्र डिग्री कॉलेज है, जहां छात्र-छात्राएं दोनों पढ़ते हैं. इस कॉलेज के उत्थान को मुख्यमंत्री रघुवर दास भी प्रयासरत है. गोविंदपुर, टेल्को, राहडग़ोड़ा, बारीगोड़ा, टिनप्लेट, गोलमुरी, बारीडीह, बिरसानगर आदि क्षेत्रों से यहां छात्र-छात्राएं पढऩे आती है.

ये कहतीं डॉ. मुदिता चंद्रा, प्रिंसिपल, एबीएम कॉलेज, गोलमुरी:-

टाटा स्टील ने गोलमुरी सर्कस मैदान में कॉलेज के लिए नया कैंपस बनाने की हरी झंडी दे दी है. इसके लिए 2.25 एकड़ जमीन भी कॉलेज को मिल चुका है. बस कंपनी राज्यपाल का अनुमोदन का इंतजार है.